Hindi short stories with moral for kids - story video | hindi kahani | english kahani | moral hindi story

Breaking

Saturday, February 12, 2022

Hindi short stories with moral for kids

Hindi Short  Stories With Moral For Kids




मुर्गा की अकल ठिकाने

एक समय की बात है, एक गांव में ढेर सारे मुर्गे रहते थे। गांव के बच्चे ने किसी एक मुर्गे को तंग कर दिया था। मुर्गा परेशान हो गया, उसने सोचा अगले दिन सुबह मैं आवाज नहीं करूंगा। सब सोते रहेंगे तब मेरी अहमियत सबको समझ में आएगी, और मुझे तंग नहीं करेंगे। मुर्गा अगली सुबह कुछ नहीं बोला।  सभी लोग समय पर उठ कर अपने-अपने काम में लग गए इस पर मुर्गे को समझ में आ गया कि किसी के बिना कोई काम नहीं रुकता। सबका काम चलता रहता है।

Hindi short stories with moral for kids
source by google



Ek samay kee baat hai, ek gaanv mein dher saare murge rahate the. gaanv ke bachche ne kisee ek murge ko tang kar diya tha. murga pareshaan ho gaya, usane socha agale din subah main aavaaj nahin karoonga. sab sote rahenge tab meree ahamiyat sabako samajh mein aaegee, aur mujhe tang nahin karenge. murga agalee subah kuchh nahin bola. sabhee log samay par uth kar apane-apane kaam mein lag gae is par murge ko samajh mein aa gaya ki kisee ke bina koee kaam nahin rukata. sabaka kaam chalata rahata hai.


Hindi Short  Stories With Moral For Kids

2. शेर का आसन

शेर जंगल का राजा होता है। वह अपने जंगल में सब को डरा कर रहता है। शेर भयंकर और बलशाली होता है। एक दिन शहर का राजा जंगल में घूमने गया। शेर ने देखा राजा हाथी पर आसन लगा कर बैठा है। शेर के मन में भी हाथी पर आसन लगाकर बैठने का उपाय सुझा। शेर ने जंगल के सभी जानवरों को बताया और आदेश दिया कि हाथी पर एक आसन लगाया जाए। बस क्या था झट से आसन लग गया। शेर उछलकर हाथी पर लगे आसन मैं जा बैठा। हाथी जैसे ही आगे की ओर चलता है, आसन हिल जाता है और शेर नीचे धड़ाम से गिर जाता है। शेर की टांग टूट गई शेर खड़ा होकर कहने लगा – ‘ पैदल चलना ही ठीक रहता है। 


शेर का आसन
source by google


Sher jangal ka raaja hota hai. vah apane jangal mein sab ko dara kar rahata hai. sher bhayankar aur balashaalee hota hai. ek din shahar ka raaja jangal mein ghoomane gaya. sher ne dekha raaja haathee par aasan laga kar baitha hai. sher ke man mein bhee haathee par aasan lagaakar baithane ka upaay sujha. sher ne jangal ke sabhee jaanavaron ko bataaya aur aadesh diya ki haathee par ek aasan lagaaya jae. bas kya tha jhat se aasan lag gaya. sher uchhalakar haathee par lage aasan main ja baitha. haathee jaise hee aage kee or chalata hai, aasan hil jaata hai aur sher neeche dhadaam se gir jaata hai. sher kee taang toot gaee sher khada hokar kahane laga – ‘ paidal chalana hee theek rahata hai.

( Hindi short stories with moral for kids )

4. शरारती चूहा

गोलू के घर में एक शरारती चूहा आ गया। वह बहुत छोटा सा था मगर सारे घर में भागा चलता था। उसने गोलू की किताब भी कुतर डाली थी। कुछ कपड़े भी कुतर दिए थे। गोलू की मम्मी जो खाना बनाती और बिना ढके रख देती , वह चूहा उसे भी चट कर जाता था। चूहा खा – पीकर बड़ा हो गया था। एक दिन गोलू की मम्मी ने एक बोतल में शरबत बनाकर रखा। शरारती चूहे की नज़र बोतल पर पड़ गयी। चूहा कई तरकीब लगाकर थक गया था, उसने शरबत पीना था।

चूहा बोतल पर चढ़ा किसी तरह से ढक्कन को खोलने में सफल हो जाता है।  अब उसमें चूहा मुंह घुसाने की कोशिश करता है। बोतल का मुंह छोटा था मुंह नहीं घुसता। फिर चूहे को आइडिया आया उसने अपनी पूंछ बोतल में डाली। पूंछ  शरबत से गीली हो जाती है  उसे चाट-चाट कर  चूहे का पेट भर गया। अब वह गोलू के तकिए के नीचे बने अपने बिस्तर पर जा कर आराम से करने लगा।

goloo ke ghar mein ek sharaaratee chooha aa gaya. vah bahut chhota sa tha magar saare ghar mein bhaaga chalata tha. usane goloo kee kitaab bhee kutar daalee thee. kuchh kapade bhee kutar die the. goloo kee mammee jo khaana banaatee aur bina dhake rakh detee , vah chooha use bhee chat kar jaata tha. chooha kha – peekar bada ho gaya tha. ek din goloo kee mammee ne ek botal mein sharabat banaakar rakha. sharaaratee choohe kee nazar botal par pad gayee. chooha kaee tarakeeb lagaakar thak gaya tha, usane sharabat peena tha. chooha botal par chadha kisee tarah se dhakkan ko kholane mein saphal ho jaata hai. ab usamen chooha munh ghusaane kee koshish karata hai. botal ka munh chhota tha munh nahin ghusata. phir choohe ko aaidiya aaya usane apanee poonchh botal mein daalee. poonchh sharabat se geelee ho jaatee hai use chaat-chaat kar choohe ka pet bhar gaya. ab vah goloo ke takie ke neeche bane apane bistar par ja kar aaraam se karane laga.



No comments:

Post a Comment

plz do not enter any spam link comment box